Kodak क्यों बर्बाद हो गया | Why Kodak Failed ?

By | October 25, 2017

Kodak क्यों बर्बाद हो गया | Why Kodak Failed ?

Why Kodak Failed ?

Why Kodak FailedClick Here for Digital Camera with wi-fi

Why Kodak Failed

परिवर्तन इस दुनिया का नियम है .
यहाँ हर चीज चाहे वो बड़ी हो या छोटी समय के साथ बदलती है .
जो लोग इस बात को समझते हैं वो अपनी जिंदगी में कामयाब होते चले जाते है और
जो लोग इस बात को जानते हुए भी इसे मानने से या बदलाव का रिस्क लेने से डरते है वो चाहे कितने भी

सक्सेसफुल क्यों न हो वक्त के साथ साथ असफ़ल होते चले जाते हैं .
Kodak का नाम सभी जानते है.
Kodak जो की जन्मदाता था फिल्म कैमरा का भी और डिजिटल कैमरा का भी
फिर ऐसा क्या हुआ की इस फील्ड का सबसे पहला और सबसे बड़ा खिलाड़ी होने के बावजूद Kodak बर्बाद हो गया .
इस सच्ची कहानी  को पूरा देखिएगा क्यूंकि Kodak की ये सच्ची कहानी हम सब के लिए एक बहुत बड़ा सबक है .
George Eastman ने 1888 में Kodak की स्थापना की थी,
1888 से  1968 तक 80 साल के इस लम्बे टाइम में Kodak ने दुनिया भर की 80% मार्किट पर कब्ज़ा कर लिया था.
अमेरिका और यूरोप में तो इसका कोई कॉम्पिटिटर ही नहीं था .
Kodak तीन चीजे बनाता था .

Why Kodak FailedClick Here For the Best Camera for YouTube Video Recording

Why Kodak Failed

कैमराफिल्म रोल – और फोटो पेपर
Kodak का फिल्म कैमरा बहुत सस्ता प्रोडक्ट था,
फिल्म कैमरा अगर घर घर तक पहुंचा तो वो Kodak की ही वजह से,

सस्ता था इसलिए उसमे प्रॉफिट मार्जिन बहुत कम था .
जैसे आज जिओ का सिंपल सा funda है फ्री के सिम बाँट दो और फिर रिचार्ज के नाम पर बार बार पैसे वसूलो

why kodak failed- jio offerClick Here for JioFi wireless adapter

Why Kodak Failed

बिलकुल ऐसे ही
Kodak की सारी कमाई फिल्म रोल और फिल्म पेपर से होती थी, क्यूंकि ये दोनों आइटम्स ही बहुत महंगी थी

और एक बार जिसने कैमरा खरीद लिए उसे बाकि की दोनों आइटम्स बार बार खरीदनी पड़ती थी .

जैसे जैसे टेक्नोलॉजी आगे बढ़ी मार्किट में फिल्म कैमरा की जगह डिजिटल कैमरा आने लगे,

ऐसे कैमरा जिनमे फिल्म रोल की जरूरत नहीं पड़ती थी .

why kodak failed - digital cameraClick Here To see List of Best Cameras

Why Kodak Failed

और आपको ये जान कर हैरानी होगी की 1975 में स्टीव नाम के Kodak के ही इंजिनियर ने सबसे पहले डिजिटल कैमरा भी बनाया था ,
और Kodak इस बात को जानता भी था की आगे आने वाला जमाना डिजिटल कैमरा का ही है क्यूंकि इसमें

फिल्म रोल की जरूरत नहीं होती और इसकी फोटो क्वालिटी भी फिल्म कैमरा से अच्छी थी.
लेकिन फिर भी Kodak इसे मानने को तयार नहीं था क्यूंकि उसकी सारी कमाई तो फिल्म रोल और पेपर से थी,

और उसने फिल्म रोल और पेपर बनाने के लिए बड़े बड़े प्लांट सेटअप कर रखे थे.
इसलिए वो रिस्क नहीं लेना चाहता था .
1990 के दशक में जब Sony, Canon, Nikon  जैसी कंपनियो के डिजिटल कैमरा की डिमांड मार्किट में बढ़ने लगी और

Kodak के फिल्म रोल बिकने बंद होने लगे, तब कहीं जाकर Kodak को अहसास हुआ की उसने गलती कर दी है .

लेकिन कहते हैं न अब पछताए होत क्या जब चिड़िया चुग गयी खेत .
Kodak ने अपना डिजिटल कैमरा लांच तो किया लेकिन इतनी देर हो गयी थी की अब मार्केट में Kodak को पूछने वाला कोई नहीं था .
आखिर 2012 में Kodak कम्पनी बंद हो गयी.

दुनिया की सबसे पहली और सबसे बड़ी कैमरा कंपनी, जिसने कैमरा को घर घर तक पहुँचाया, अगर वक्त रहते खुद को बदलना शुरू कर देती तो आज भी दुनिया के मार्किट पर राज करती ,
लेकिन उसने वक्त को पहचानने में गलती कर दी और अपना सारा पोटेंशियल गवां बैठी.

दोस्तो जब हम थोडा कमाने लगते हैं और हमें लगता है की जिदंगी ठीक ठाक चल रही है तो हम आगे बढने की कोशिश करना छोड़ देते हैं, और सोचने लगते हैं की बस ऐसे ही पूरा जीवन बड़े आराम से कट जायेगा.
हम भी अपने कम्फर्ट जोन में चले जाते हैं और बदलाव से डरने लगते हैं.

YouTube पर इस पोस्ट की विडियो जरुर देखें |

Why Kodak Failed

लेकिन Kodak की ये कहानी हमें सिखाती है की वक्त के साथ बदलाव बहुत जरुरी है वरना दुसरे लोग आपकी जगह लेने में जरा भी देर नहीं लगायेंगे,
अगर आप दूकानदार हैं तो सामने वाला आपसे अच्छी दूकान खोल कर आपको फेल कर देगा.
अगर आप नौकरी करते हैं तो सामने वाला आपसे ज्यादा परफोर्मेंस देकर तरक्की कर जायेगा .
अगर आप बिज़नस मैन हैं तो सामने वाला आपसे अच्छा बिज़नस खड़ा कर के आपको हरा देगा .
इसलिए कम्पटीशन में अगर बने रहना है तो समय के अनुसार खुद को बदलते रहो .
calculated रिस्क लेना सीखो.

अन्य POPULAR पोस्ट :-

1- अनजान देवता

 

दोस्तो अगर आप के पास भी ऐसी कोई कहानी या लेख है तो उसे हमारे साथ जरुर शेयर करें | आपका पोस्ट आपके नाम,फोटो और अन्य डिटेल्स के साथ पब्लिश किया जायेगा |

आप अपने अनमोल विचार हमारे  ईमेल [email protected] पर भेज सकते है.

पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताएं और हमारे साथ सोशल मीडिया पर जुड़ने के लिए नीचे दिए गये Links को follow करें .

धन्यवाद .

☛ For more Updates Follow:

FaceBook : https://www.facebook.com/ashwani.ch.940
Twitter : https://twitter.com/@successblogtv
Google+ : https://plus.google.com/u/0/113221031268430778514
Website :ü https://www.successtvblogs.com/
Youtube :ü https://www.youtube.com/channel/UC2MmSG2tD9JF9oOLkxs3cfQ
e-mail :ü [email protected]

 

Please follow and like us:
error0

5 thoughts on “Kodak क्यों बर्बाद हो गया | Why Kodak Failed ?

  1. HindiApna

    Aapne kodak ke bare me bahut hi achhi jankari ko share kiya hain is jankari ko share karne ke liye Dhnyabad.

    Reply
  2. Pingback: ये तीन चीजें आपको बर्बाद कर सकती हैं | Hindi motivational lines - Success Blogs

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *